Breaking News
Home / तकनीक / फर्जी खबरों की बैंड बजाने फेसबुक-ट्वीटर पर आ गया ये नया साफ्टवेयर

फर्जी खबरों की बैंड बजाने फेसबुक-ट्वीटर पर आ गया ये नया साफ्टवेयर

वैज्ञानिकों ने फेसबुक और ट्विटर जैसे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्मों पर फर्जी खबरों पर नजर रखने के लिए एक वेब आधारित सॉफ्टवेयर विकसित किया है. अमेरिका की यूनिवर्सिटी ऑफ मिशीगन के अनुसंधानकर्ताओं द्वारा विकसित यह टूल ‘इफ्फी कोशेंट’ नाम के प्लेटफॉर्म हेल्थ मेट्रिक का इस्तेमाल करता है जो दो बाहरी निकायों ‘न्यूजव्हिप’ और ‘मीडिया बायस/फैक्ट चैकर’ के माध्यम से फेक न्यूज को खोजने वाली क्रिया को अंजाम दे सकता है.

हजारों साइटों से यूआरएल इकट्ठा करती है कंपनी
न्यूजव्हिप एक सोशल मीडिया ट्रैकिंग कंपनी है जो हर रोज हजारों साइटों से यूआरएल इकट्ठा करती है और फिर फेसबुक, ट्विटर से जुड़ी इन साइटों से सूचना एकत्रित करती है. इफ्फी कोशेंट दोनों सोशल मीडिया प्लेटफॉर्मों पर 5000 सबसे शीर्ष लोकप्रिय यूआरएल के लिए न्यूजव्हिप से जानकारी हासिल करता है.

WhatsApp ने iOS एप के लिए नए अपडेट का किया ऐलान, जानिए क्या है कुछ नया

इसके बाद यह सॉफ्टवेयर पता लगाता है कि ये डोमेन स्वतंत्र वेबसाइट मीडिया बायस/फैक्ट चैक द्वारा चिह्नित किये गये हैं या नहीं. मीडिया बायस/फैक्ट चैक कई स्रोतों की विश्वसनीयता और उनकी तटस्थता के आधार पर उनका वर्गीकरण करती है.

Facebook ने फेक न्यूज़ और झूठी सूचनाओं पर लगाम लगाने के लिए एक पहल शुरू की थी. FB ने ऐसे पेज की कमाई रोकने के लिए विज्ञापन देना बंद करने का फैसला किया है, जो लगातार फर्जी खबरें शेयर करते हैं. वेबसाइट ‘टेकक्रंच’ की रिपोर्ट के मुताबिक,  सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर जैसे ही किसी खबर को विवादित खबर के तौर पर पहचान की जाएगी, वैसे ही खबर के लिंक को फेसबुक के दिए जाने वाले विज्ञापन मिलने बंद हो जाएंगे.

Paytm Mall Maha Cashback sale के दौरान यूजर्स को दिया जाएगा 501 करोड़ रुपये का कैशबैक

फेसबुक के प्रोडक्ट डायरेक्टर रॉब लीथर्न ने कहा था कि फेसबुक इससे तीन तरीके से निपटने की कोशिश कर रहा है. पहला फर्जी खबरें पोस्ट करने वालों का आर्थिक लाभ खत्म कर, दूसरा इस तरह की फर्जी खबरों के फैलने की स्पीड धीमी होगी और तीसरा इस तरह की फर्जी खबरें सामने आने पर व्यक्ति को उससे जुड़ी और खबरें/सूचनाएं प्रदान करा जा सके. फेसबुक ने कहा है कि फर्जी खबरें प्रसारित करने को लेकर विज्ञापन देने संबंधी यह प्रतिबंध स्थायी नहीं है.

loading...

About Nitika Srivastav

Check Also

एयरटेल

सिर्फ 195 रुपये एयरटेल अपने ग्राहकों को दे रहा इतना डाटा, बाकियों को हो जाएगी छुट्टी

भारती एयरटेल ने अपना नया प्रीपेड प्लान लॉन्च किया है जिससे यूजर्स को अपनी तरफ …

मोबाइल नेटवर्क

4G नेटवर्क के अभी की स्पीड से 10 गुना तेज होगी 5G की स्पीड

5G या फिर कह लें 5वां जेनरेशन मोबाइल नेटवर्क जो आपके नेट स्पीड में ही बदलाव …

गूगल प्ले स्टोर

अब फ्री म्विन नहीं चला पाएंगे Google Play Store और अन्य मोबाइल ऐप्स

एंड्रॉइड निर्माताओं को अब यूरोप में गूगल को प्रति डिवाइस 40 डॉलर के शुल्क का …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *